Blog

कैसा हो बेडरूम का वास्तु सम्मत इंटीरियर

डाइनिंगरूम की साज-सज्जा

 

ड्राइंगरूम के बाद हम बात करते हैंडाइनिंग रूम की। डाइनिंग रूम की साज-सज्जा करने से पूर्व निम्न बातों पर ध्यान दें:-

ह्ण     डाइनिंग टेबल दीवारों से न सटी हो। बेहतर हो कि उसे कमरे के मध्य भाग में स्थापित किया जाए।

ह्ण     डाइनिंग टेबल की मेज-कुर्सियों के कोने धारदार अर्थात नुकीले न हों।

ह्ण     वास्तु के अनुसारबाथरूम को डाइनिंग रूम के नजदीक निर्मित नहीं किया जाना चाहिए।

ह्ण     डाइनिंग रूम की उत्तर/उत्तर-पूर्व व पूर्व की दीवारों पर सौंदर्य के लिए आदमकद शीशे लगाए जा सकते हैं।

ह्ण     डाइनिंग रूम का इंटीरियर घर के मुखय द्वार से दिखाई नहीं देना चाहिए।

ह्ण     डाइनिंग रूम में प्रकाश की उचित व्यवस्था हो।

कैसा हो बेडरूम का वास्तु सम्मत इंटीरियर

दिनभर की थकान के बाद हम घर पहुंचकर अपने बेडरूम में विश्राम करते हैं। यह वह स्थान हैजहां पहुंचकर हमें सारे तनावों से मुक्त हो जाना चाहिए। इसीलिए इसका इंटीरियर स्वतः महत्वपूर्ण हो जाता है।

ह्ण     बेड व बेडरूम में प्रेवश करने का द्वार एक ही दिशा में नहीं होना चाहिए।
ह्ण     डे्रसिंग टेबल को उत्तर या पूर्व दिशा की दीवार के पास रखें।
ह्ण     अगर बेडरूम में स्टडी टेबल रखते हैंतो उसे इस प्रकार रखा जाए कि वहां बैठकर अध्ययन करने के दौरान आपका मुंह उत्तर या पूर्व की ओर हो।
ह्ण     ड्रेसिंग टेबल के अतिरिक्त अन्य शीशों व टेलीविजन को बेडरूम में रखने से बचना चाहिए।

free vector

Leave a Comment

Name*

Email* (never published)

Website