Blog

बाथरूम भी हो फेंग्‍शुई सम्मत

भले ही बाथरूम में हम अधिक समय व्यतीत न करते होंलेकिन यह हमारे निजी इस्तेमाल का बेहद खास स्थान होता है। जीवन में सकारात्मक परिणामों के लिए आवश्यक है कि हमारे स्नानघर की दिशा व दशा उचित हो। फेंग्‍शुई बाथरूम को विद्गोद्गा अहमियत प्रदान करता हैक्योंकि यहां हम अपने शारीरिक विकारों के साथ-साथ हम अपने भावनात्मक विकारों (मैल) की भी सफाई करते हैं।

फेंग्‍शुई के अनुसारबाथरूम घर में उत्तर दिद्गाा में स्थित होना चाहिए। बाथरूम को घर के मध्य भाग में न बनाएं। इससे परिवार के सदस्यों को शारीरिक परेशानियोंबीमारी आदी से गुजरना पड़ सकता है। बाथरूम घर के मुखय द्वार से दिखाई न दे। इसे बेडरूम व रसोईघर के सामने भी बनाने से बचना चाहिए। बाथरूम व रसोई अथवा बेडरूम की दीवार से न जुडा हो। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

बाथरूम का प्रतिनिधि तत्व जल है। बाथरूम की दीवारों पर हमेशा पृथ्वी तत्व का प्रतिनिधित्व करने वाले भूरा या पीला रंग करवाने चाहिएं। जिस प्रकार पृथ्वी जल को सोख लेती हैउसी प्रकार ये रंग भी बाथरूम में अतिरिक्त जल को सोखकर वहां ऊर्जा का प्रवाह संतुलित करते हैं। 

बाथरूम में खिड की दरवाजे के ठीक सामने न बनी हो। बाथटबशौचालय के पॉट में भी कुछ दूरी होनी चाहिए। इसके साथ ही बाथरूम में हवा व रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था हो। फेंग्‍शुई कहता है कि बाथरूम की दीवार पर शीशे लगाने से घर में ची‘ यानी ऊर्जा का प्रवाह होता हैलेकिन ध्यान रहे कि शीशे एक-दूसरे के सामने न लगे हों। बाथरूम अगर घर के मुखय प्रवेश द्वार के सामने बना हो तो करियर के अवसर प्राप्त होने से पहले ही छिन जाते हैं। बाथरूम अगर घर के मध्य भाग में बना होतो उसके बाहरी हिस्से की दीवार पर शीशा लगाएं व बाथरूम की दीवार पर लाल रंग करवाएं। इसके साथ ही पृथ्वी तत्व का प्रतिनिधित्व करने वाला सामान जैसे मिट्‌टी का गमलाक्रिस्टल अथवा स्टोन बाथरूम के कोनों में रखें।

बाथरूम में अगर खिड़की न बनी होतो वहां ताजगी व वायु तत्व के लिए आप छोटे पौधे का गमला रख सकते हैं। गमले को सौर प्रकाश व ताजा हवा देने के लिए आप उसे नियमित समय के अंतराल पर घर में रखे दूसरे गमले से बदलते रहें।

बाथरूम के संबंध में कुछ खास फेंग्‍शुई टिप्सः-

ह्ण     खराब हो चुकी चीजें बाथरूम में न रखें। 

ह्ण     अगर आपको मैगजीन इत्यादि पढ ना पसंद हैतो उन्हें बाथरूम के एक कोने में रख सकते हैं।

ह्ण     बाथरूम की दीवारों पर गहरे रंगों का प्रयोग सकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित करता है।

ह्ण     जल की निकासी का समुचित प्रबंध किया गया हो।

ह्ण     बाथरूम में आप बैम्बू ट्री लगा सकते है। बेहतर हो अगर बैम्बू ट्री का प्रतिबिम्ब बाथरूम की दीवार पर लगे शीशे में दिखाई दे।

ह्ण     प्रयास करें कि बाथरूम का दरवाजा अधिकांश समय बंद रहे।

free vector

Leave a Comment

Name*

Email* (never published)

Website