feng shui for drawing room

फेंग्‍शुई से डेकोरेट हो ड्राइंगरूम

ड्राइंगरूम जिसे लिविंगरूम और बैठक भी कहा जाता है, घर का सबसे खास हिस्सा होता है। ड्राइंगरूम घर का एकमात्र स्थान है, जहां परिवार के सभी सदस्य एकसाथ समय बीताते हैं। यहीं पर बैठकर कभी हम मनोरंजन करते हैं, तो कभी भोजन करते हैं और कभी अपने सुख-दुख बांटते हैं और भविद्गय की योजनाओं का खाका खींचते हैं। फेंग्‍शुई कहता है कि ड्रांइगरूम रिश्तों में मीठास कायम रखने और करियर को उज्ज्वल बनाने में विद्गोद्गा भूमिका का निर्वाह करता है। आवश्यक है कि आपका ड्राइंगरूम संतुलित, शांत और ऊर्जावान हो। फेंग्‍शुई के अनुरूप अपने ड्राइंगरूम को इस प्रकार सुस्सजित करें कि पूरे घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बना रहे। फेंग्‍शुई कहता है कि उन्नति के सभी अवसर मुखय द्वार से आते हैं। इसलिए अपने ड्राइंगरूम का प्रवेश द्वार भवन के प्रवेश द्वार की दिशा में रखें। ड्राइंगरूम में रोशनी का पर्याप्त प्रबंध होना चाहिए, क्योंकि प्रकाश खुशियों व सौभाग्य का प्रतीक है। वहीं ड्राइंगरूम में मद्धिम रोशनी निरसता की परिचायक है। ड्राइंगरूम में सोफा, काउच, कुर्सियां कक्ष के प्रवेश द्वार की दिशा में रखनी चाहिएं। बैठने की व्यवस्था इस प्रकार होनी चाहिए कि ड्राइंगरूम में बैठे व्यक्तियों का मुख प्रवेश द्वार की तरफ हो। पेंटिंग्स, पौधों और फूलों आदी से आप अपने कक्ष को सजा सकते हैं। कमरे की पूर्वी दीवार पर परिवार के सदस्यों की फोटो लगाएं या पेड़ की बडी तस्वीर। यह घर में खुशियां लेकर आता है। उत्तर दिशा की दीवार पर पानी से भरी झील या झरने की तस्वीर लगाने से करियर में आशातीत सफलता हांसिल होती है। इसके साथ ही कक्ष को ऊर्जावान बनाने के लिए मिट्‌टी से बने शो-पीस इत्यादी भी सजावट के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। ड्राइंग रूम में सीधे व कांटों वाले पौधे न लगाएं। अगर आपके कमरे की दीवार की चौड़ाई अधिक है तो आप उक्त दीवार पर शीशा लगा सकते हैं। बेहतर होगा कि शीशा फेंग्‍शुई विशेषज्ञ के निर्देशन में लगाएं, क्योंकि गलत दिशा या गलत तरीके से लगाया शीशा विपरीत परिणाम दे सकता है। आपका ड्राइंगरूम अव्यवस्थित न हो। उसे खूबसूरत बनाने के लिए आप आकषर्क तस्वीरों व शो-पीस आदी इस्तेमाल कर सकते हैं। गोल पत्तों के पौधों वाले गमले भी ड्राइंगरूम में लगाकर आप उसे आकर्शक […]